बी फार्मा में कितने सब्जेक्ट होते हैं | B Pharma Me Kitne Subject Hote Hai

बी फार्मा में कितने सब्जेक्ट होते हैं– B Pharma Me Kitne Subject Hote Hai बी फार्मा एक 4 साल का मेडिकल क्षेत्र अंडर ग्रैजुएट डिग्री कोर्स है जिसका फुल फॉर्म बैचलर ऑफ फार्मेसी होता है। 

इस कोर्स के विद्यार्थियों को दवा बनाने का प्रक्रिया तथा किस मरीजों को किस तरह के दवाई देना चाहिए साथ में दवाई बनाने का मात्रा कितनी होनी चाहिए इत्यादि के बारे में अध्ययन कराया जाता है।

बी फार्मा में कितने सब्जेक्ट होते हैं | B Pharma Me Kitne Subject Hote Hai

क्या दोस्तों आप भी 12वीं कि परीक्षा में PCB (Physics, Chemistry and Mathematics) सब्जेक्ट को लेकर के 50% अंक के साथ मान्यता प्राप्त कर लिये हैं और आगे जाकरके आप मेडिकल के क्षेत्र में बी फार्मा की कोर्स करना चाहते हैं लेकिन इससे पहले आपको यह जानना जरूरी है कि B.Pharma में कितने सब्जेक्ट होते हैं।

आज के समय में अगर देखा जाए तो मेडिकल क्षेत्र में जॉब केरियर काफी ज्यादा प्रचलित है अक्सर 10वीं और 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद विद्यार्थियों कौन सी जॉब अच्छी है और किस जॉब में एक अच्छी केरियर होती है यह समझने में असमर्थ होते हैं 12वीं PCB Subject में पास करने के बाद विद्यार्थी बी फार्मा कि जॉब कर सकते हैं।

Table of Contents

बी फार्मा में कितने सब्जेक्ट होते हैं (B Pharma Me Kitne Subject Hote Hai)

  • Pharmaceutical Inorganic Chemistry
  • Human Anatomy and Physiology
  • Human Anatomy and Physiology
  • Pharmaceutical Organic Chemistry
  • Computer Applications in Pharmacy
  • Pharmacognosy and Phytochemistry
  • Pharmaceutical Microbiology
  • Pharmaceutical Engineering
  • Pharmaceutical Organic Chemistry
  • Physical Pharmaceutics
  • Medicinal Chemistry
  • Pharmacology
  • Pathophysiology
  • Remedial Biology
  • Environmental Sciences
  • Remedial Mathematics
  • Pharmaceutical Analysis
  • Pharmaceutics
  • Biochemistry
  • Pharmaceutical biotechnology
  • Pharmaceutical jurisprudence
  • Herbal Drug Technology
  • Medicinal Chemistry
  • Medicinal Chemistry II
  • Industrial Pharmacy
  • Drug
  • Quality Control and Standardization of Herbals
  • Instrumental Methods of Analysis Industrial 
  • Science, Social and Preventive
  • Pharmaceutical Regulatory
  • Advanced Instrumentation Techniques
  • Novel Drug Delivery Systems 
  • Biostatistics and Research Methodology
  • Dietary Supplements and Nutraceuticals
  • cell and molecular biology
  • Dietary Supplements and Nutraceuticals
  • Pharmacy Experimental Pharmacology
  • Computer Aided Drug Design
  • Training Project Work
  • Pharmacy Practical
  • Pharmacovigilance
  • Cosmetic Science

बी फार्मा 1st Year में कितने सब्जेक्ट होते हैं (B Pharma 1st Year List In Hindi)

भारतीय बी फार्मा में कुल 12 सब्जेक्ट होते हैं बी फार्मा सब्जेक्ट फर्स्ट 1st Year लिस्ट नीचे इस प्रकार से है:–

  • Pharmaceutical Inorganic Chemistry
  • Human Anatomy and Physiology
  • Pharmaceutical Organic Chemistry
  • Computer Applications in Pharmacy
  • Human Anatomy and Physiology
  • Pharmaceutical Analysis
  • Environmental Sciences
  • Remedial Mathematics
  • Pathophysiology
  • Remedial Biology
  • Pharmaceutics
  • Biochemistry

बी फार्मा 2nd Year में कितने सब्जेक्ट होते हैं (B Pharmacy 2nd Year Subjects)

भारतीय बी फार्मा सेकंड ईयर में कुल 7 सब्जेक्ट होते हैं जो कि इस प्रकार से हैं:–

  • Pharmaceutical Organic Chemistry
  • Pharmaceutical Microbiology
  • Pharmacognosy and Phytochemistry
  • Pharmaceutical Engineering
  • Medicinal Chemistry
  • Physical Pharmaceutics
  • Pharmacology

बी फार्मा 3rd में कितने सब्जेक्ट होते हैं (B Pharmacy 3rd Year Subjects)

भारतीय बी फार्मा थर्ड ईयर में कुल 7 सब्जेक्ट होते हैं जो कि नीचे इस प्रकार से है:–

  • Herbal Drug Technology
  • Medicinal Chemistry
  • Pharmaceutical biotechnology
  • Pharmaceutical jurisprudence
  • Medicinal Chemistry II
  • Industrial Pharmacy
  • Drug

बी फार्मा 4th Year में कितना सब्जेक्ट होते हैं (B Pharmacy 4th Year Subjects)

भारतीय बी फार्मा फोर्थ ईयर में कुल 18 सब्जेक्ट होते हैं जो कि नीचे इस प्रकार से दर्शाया गया है:–

  • Instrumental Methods of Analysis Industrial 
  • Quality Control and Standardization of Herbals
  • Pharmaceutical Regulatory
  • Science, Social and Preventive
  • Advanced Instrumentation Techniques
  • Novel Drug Delivery Systems 
  • Biostatistics and Research Methodology
  • cell and molecular biology
  • Dietary Supplements and Nutraceuticals
  • Dietary Supplements and Nutraceuticals
  • Pharmacy Experimental Pharmacology
  • Computer Aided Drug Design
  • Training Project Work
  • Pharmacy Practice
  • Pharmacovigilance
  • Pharmacy Practical
  • Cosmetic Science

बी फार्मा कि सैलरी कितनी होती है ( B Pharmacy Ki Salary Kitni Hoti Hai)

बी फार्मा की सैलरी क्षेत्र में शुरुआती वेतन महीने की लगभग 25,000 से लेकर के 30,000 तक की हो सकती है वहीं जबकि बी फार्मा की सैलरी प्राइवेट क्षेत्र में लगभग 10,000 से लेकर के लगभग 25,000 तक की हो सकती है।

इंस्टीट्यूट से मान्यता प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों कि बी फार्मेसी कि सैलरी सालाना लगभग 3,00000 से लेकर के लगभग 5,00000 तक कि हो सकती है बी फार्मा की सलैरी उम्मीदवार की नियुक्ति पद के आधार पर निर्धारित होती है। 

अलग-अलग पोस्ट की उम्मीदवार की सैलरी अलग-अलग होती है साथ ही जैसे-जैसे उम्मीदवार की अनुभव बढ़ता है ठीक उसी प्रकार से उम्मीदवार की सैलरी में भी वृद्धि होती है अलग-अलग क्षेत्रों में बी फार्मा की सैलरी अलग-अलग निर्धारित होती है।

बी फार्मा सिलेबस क्या है (B Pharmacy Syllabus In Hindi)

बी फार्मा सिलेबस एक पाठ्यक्रम विवरण जिसमें सेमेस्टर बाय सेमेस्टर कोर्स के बारे में विस्तार पूर्वक से जानकारी दर्शाया होता है। जैसे कि हम जानते हैं की बी फार्मा की कोर्स 4 साल का होता है जिसमें कुल 8 सेमेस्टर होते हैं तथा प्रत्येक साल 2-2 सेमेस्टर कि अध्ययन कराई जाती है।

किसी भी कोर्स को करने से पहले विद्यार्थियों को उस कोर्स के बारे में जानकारी होना अति आवश्यक होता है बी फार्मा कोर्स सिलेबस पाठ्यक्रम विवरण नीचे इस प्रकार से दर्शाया गया है-

B Pharma 1st Year Syllabus In Hindi

बी फार्मा फर्स्ट ईयर सिलेबस में 2 सेमेस्टर आते हैं तथा 2 सेमेस्टर के अंतर्गत आने वाली विषय निम्नलिखित प्रकार से दर्शाया गया है:–

Semester 1

  • शरीर रचना विज्ञान और शरीर विज्ञान
  • फार्मास्युटिकल रसायन शास्त्र
  • फार्मास्युटिकल विश्लेषण 1
  • बेसिक इलेक्ट्रॉनिक्स
  • कंप्यूटर अनुप्रयोग
  • उन्नत गणित
  • जीव विज्ञान

Semester 2

  • वितरण और सामुदायिक फार्मेसी
  • औषध बनाने की विद्या
  • कार्बनिक रसायन शास्त्र
  • फार्मास्युटिकल विश्लेषण 2
  • फार्मास्युटिकल केमिस्ट्री 2
  • फार्माकोग्नॉसी 2
  • फार्माकोग्नॉसी 3

B Pharma 2nd Year Syllabus In Hindi

बी फार्मा सेकंड ईयर सिलेबस में 2 सेमेस्टर आते हैं तथा 2 सेमेस्टर के अंतर्गत आने वाली विषय इस प्रकार से दर्शाया गया है:–

Semester 3

  • प्राकृतिक उत्पादों की रसायन विज्ञान
  • फार्मास्युटिकल न्यायशास्त्र नैतिकता
  • जीव रसायन
  • औषधीय रसायन विज्ञान 1
  • फार्माकोलॉजी 1
  • फार्माकोलॉजी 2
  • औषधीय रसायन 2
  • अस्पताल फार्मेसी

Semester 4

  • प्राकृतिक उत्पादों की रसायन विज्ञान
  • फार्मास्युटिकल बायोटेक्नोलॉजी
  • फार्मास्युटिकल बायोटेक्नोलॉजी
  • दवाओं का पारस्परिक प्रभाव
  • रोग विष्यक औषधालय
  • ऐच्छिक
  • औषध बनाने की विद्या
  • फार्माकोग्नॉसी
  • औषधीय रसायन विज्ञान 3

B Pharma 3rd Year Syllabus In Hindi

बी फार्मा थर्ड ईयर सिलेबस में 2 सेमेस्टर आते हैं तथा 2 सेमेस्टर के अंतर्गत आने वाली विषय निम्नलिखित दर्शाया गया है:–

Semester 5

  • फार्माकोग्नॉसी फाइटोकेमिस्ट्री 2-प्रैक्टिकल
  • फार्माकोग्नॉसी फाइटोकेमिस्ट्री 2-सिद्धांत
  • औद्योगिक फार्मेसी 1- प्रैक्टिकल
  • औद्योगिक फार्मेसी 1- सिद्धांत
  • औषध विज्ञान 2- सिद्धांत
  • फार्मास्युटिकल न्यायशास्त्र
  • मेडिकल केमिस्ट्री 2- थ्योरी
  • फार्माकोलॉजी 2- प्रैक्टिकल
  • हर्बल औषधि प्रौद्योगिकी

Semester 6

  • फार्मास्युटिकल बायोटेक्नोलॉजी
  • मेडिकल केमिस्ट्री 3- प्रैक्टिकल
  • फार्माकोलॉजी 3- प्रैक्टिकल
  • हर्बल ड्रग टेक्नोलॉजी- थ्योरी
  • बायोफर्मासिटिक्स- थ्योरी
  • मेडिकल केमिस्ट्री 3- थ्योरी
  • गुणवत्ता आश्वासन – सिद्धांत
  • औषध विज्ञान 3- सिद्धांत
  • फार्माकोकाइनेटिक्स

B Pharma 4th Year Syllabus In Hindi

बी फार्मा फोर्थ ईयर सिलेबस में भी 2 सेमेस्टर आते हैं तथा 2 सेमेस्टर के अंतर्गत आने वाली विषय निम्नलिखित प्रकार से दर्शाया गया है:–

Semester 7

  • फार्माकोकाइनेटिक्स और बायोफर्मासिटिकल्स 1
  • फार्मास्युटिकल टेक्नोलॉजी 4- प्रैक्टिकल
  • फार्मास्युटिकल विश्लेषण 3- व्यावहारिक
  • फार्मास्युटिकल विश्लेषण 3- सिद्धांत
  • फार्माकोलॉजी 4- प्रैक्टिकल
  • फार्मास्युटिकल टेक्नोलॉजी 4- थ्योरी
  • औषध विज्ञान 4- सिद्धांत
  • फार्माकोग्नॉसी 4

Semester 8

  • फार्माकोकाइनेटिक्स और बायोफर्मासिटिक्स 2
  • क्लिनिकल फार्मेसी- प्रैक्टिकल
  • मेडिकल केमिस्ट्री 4- प्रैक्टिकल
  • क्लिनिकल फार्मेसी- थ्योरी
  • मेडिकल केमिस्ट्री 4- थ्योरी
  • फार्माकोकाइनेटिक्स
  • फार्माकोग्नॉसी
  • बायोफर्मासिटिक्स

बी फार्मा कोर्स के लिए कॉलेज ( B.Pharma Course College)

बी फार्मा कोर्स के लिए कॉलेज और यूनिवर्सिटी काफी सारे होते हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार से दर्शाया गया है:–

  • Government College Of Pharmacy, Amravati School of Health Sciences
  • Karad MCOPS Manipal – Manipal College of Pharmaceutical Sciences 
  • SRM College of Pharmacy, Kattankulathur MSU Baroda – Maharaja Sayajirao University of Baroda
  • LPU Jalandhar – Lovely Professional University Government College of Pharmacy
  • Bharati Vidyapeeth University 
  • School of Pharmacy Devi Ahilya University
  • Rashtrasant Tukdoji Maharaj Nagpur University
  • Dr DY Patil Institute of Pharmaceutical Sciences and Research
  • PSG College of Pharmacy, Coimbatore Pharmacy College, Saifai
  • Delhi Institute of Pharmaceutical Sciences
  • Government College of Pharmacy
  • Jadavpur University
  • Al-Ameen College of Pharmacy
  • Sri Ramachandra Institute of Higher Education and Research
  • University Institute of Pharmaceutical Sciences
  • Government Pharmacy Institute
  • University of Petroleum Dehradun and energy studies
  • JSS Academy Of Higher Education and Research

बी फार्मा कॉलेज व यूनिवर्सिटी पाठ्यक्रम विवरण

क्र.सं.कॉलेज व यूनिवर्सिटीस्थित स्थान 
1.मद्रास मेडिकल कॉलेजएमएमसी चेन्नई
2.जेएसएस एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्चमैसूर
3.यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीजदेहरादून
4.गवर्नमेंट फार्मेसी इंस्टीट्यूटगुलजारबाग
5.यूनिवर्सिटी इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेजचंडीगढ़
6.श्री रामचंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्चचेन्नई
7.अल-अमीन कॉलेज ऑफ फार्मेसीबैंगलोर
8.गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ फार्मेसीऔरंगाबाद
9.जादवपुर विश्वविद्यालयकोलकाता
10.दिल्ली इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेज एंड रिसर्चनई दिल्ली
11.डॉ डी वाई पाटिल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंसेज एंड रिसर्चपुणे
12.राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालयनागपुर
13.स्कूल ऑफ फार्मेसी देवी अहिल्या विश्वविद्यालयइंदौर
14.पूना कॉलेज ऑफ फार्मेसीपुणे
15.बॉम्बे कॉलेज ऑफ फार्मेसीबीसीपी मुंबई
16.जेएसएस कॉलेज ऑफ फार्मेसीऊटी
17.मदुरै मेडिकल कॉलेजमदुरै
18.रासायनिक प्रौद्योगिकी संस्थानआईसीटी मुंबई
19.जामिया हमदर्दनई दिल्ली

बी फार्मा कोर्स के लिए योग्यता (B Pharma Ke Liye Qualification)

  • बी फार्मा कोर्स में पात्रता के लिए उम्मीदवार को 12वीं कक्षा में PCB (Physics Chemistry and Biology) सब्जेक्ट के साथ मान्यता प्राप्त करना होता है।
  • 12वीं कक्षा में न्यूनतम 50% अंक के साथ मान्यता प्राप्त करना होता है। 
  • फार्मेसी में डिप्लोमा मान्यता प्राप्त उम्मीदवार भी बी फार्मा कोर्स में भाग ले सकते हैं।
  • बी फार्मा कोर्स में दाखिला के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 17 वर्ष और आधीतमा अयु 23 वर्ष की होने चाहिए जबकि अलग-अलग वर्ग के उम्मीदवारों के लिए अलग-अलग आयु सीमा निर्धारित की गई है।

बी फार्मा के बाद के जॉब विकल्प (B Pharma Ke Baad Job)

बी फार्मा के बाद कंपटीशन जॉब्स विकल्प काफी सारे होते हैं जिनमें से कुछ नीचे इस प्रकार से दर्शाया गया है:–

  • हेल्थ सेंटर, 
  • हॉस्पिटल फार्मेसी, 
  • क्लिनिकल फार्मेसी, 
  • मेडिकल डिस्पेंसिंग स्टोर, 
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूट, 
  • फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन, 
  • रिसर्च एजेंसी, 
  • सेल्स एंड मार्केटिंग डिपार्टमेंट, 
  • टेक्निकल फार्मेसी 
  • इत्यादि……..

बी फार्मा करने के बाद उम्मीदवार के पास काफी सारे रोजगार के अवसर देखने को मिलता है जैसे कि गवर्नमेंट क्षेत्र में, प्राइवेट क्षेत्र में तथा निजी क्षेत्र में जहां से उम्मीदवार एक अच्छी कमाई कर सकते हैं साथ ही उम्मीदवारी की फारदर स्टडीज का विकल्प भी खुल जाता है जहां उम्मीदवार चाहे तो वह अपने आगे की पढ़ाई भी कर सकते हैं।

बी फार्मेसी करने के फायदे (B Pharmacy Course Benefit) 

बी फार्मा में मान्यता प्राप्त उम्मीदवार के पास काफी सारे फायदे होते हैं जो कि इस प्रकार से है:–

  • बी फार्मा करने के बाद उम्मीदवार की सबसे बड़ी फायदा होता है कि उन्हे मेडिकल के क्षेत्र में 3 सर्टिफिकेट प्राप्त हो जाता है।
  • बी फार्मा के बाद उम्मीदवार को प्राप्त होने वाले प्रथम सर्टिफिकेट शॉप लाइसेंस यानी कि उम्मीदवार अपने खुद के मेडिकल खोल सकते हैं।
  • दूसरा सर्टिफिकेट ड्रग मैन्युफैक्चरिंग लाइसेंस यानी की दवाई बना भी सकते है।
  • तीसरा सर्टिफिकेट जिससे कि उम्मीदवार अपने मेडिकल से दवाइयों का होलसेल कर सकते हैं।
  • बी फार्मा पूरा करने के बाद उम्मीदवार एक ग्रेजुएशन फार्मासिस्ट बन जाते हैं।
  • B.Pharm करने के बाद आप किसी भी मेडिसिन कंपनी में एक अच्छी सी नोकरी पा सकते है।
  • इस कोर्स को करने के बाद उम्मीदवार सरकारी और गैर सरकारी विभागों के रिसर्च विभाग में आसानी से जॉब कर सकते हैं।
  • B.Pharm करने के बाद आप खुद का मेडिकल स्टोर खोल सकते है।
  • B.Pharm करने के बाद आप केमिस्ट के तौर पर एक अच्छी जॉब पा सकते हैं।
  • इस कोर्स को करने के बाद उम्मीदवार को मेडिकल स्टोर के लिए लाइसेंस मिल जाता है।

MUST READS:»

FAQ’S: बी फार्मा में कितने सब्जेक्ट होते हैं | B Pharma Me Kitne Subject Hote Hai

Q:- बी फार्मा में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

Ans– B.Pharma प्रथम वर्ष में कुल 12 सब्जेक्ट होते हैं जब कि दूसरे और तीसरी वर्ष में कुल 7-7 सब्जेक्ट होते हैं तथा चौथे वर्ष में कुल 18 सब्जेक्ट होते हैं अर्थात बी फार्मा की प्रत्येक वर्ष में अलग-अलग सब्जेक्ट होते हैं। 

Q:- बी फार्मा की फीस कितनी होती है?

Ans– बी फार्मा प्राइवेट कॉलेज की औसतन फीस लगभग 60,000 से लेकर के लगभग 1,00,000 तक कि हो सकती है जबकि सरकारी कॉलेज की औसतन फीस लगभग 15,000 से लेकर के लगभग 40,000 तक की हो सकती है।

Q:- बी फार्मा की सैलरी कितनी होती है?

Ans– अच्छे इंस्टीट्यूट से बी फार्मा डिग्री धारक उम्मीदवार को मिलने वाली वार्षिक सैलरी लगभग 3,00,000 से लेकर के लगभग 5,00,000 तक कि हो सकती है साथ ही जैसे-जैसे उम्मीदवार की अनुभव बढ़ते जाता है ठीक उसी प्रकार से उम्मीदवारी की सैलरी में भी बढ़ोतरी होती है।

बी फार्मा में कितने सब्जेक्ट होते हैं | B Pharma Me Kitne Subject Hote Hai

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *