बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स | BA Ke Baad Diploma Course List

बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स | BA Ke Baad Diploma Course List:- क्या साथियों आप भी बीए पास करने के बाद डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं, यदि आप बीए की पढ़ाई कर चुके हैं या बीए में पढ़ रहे हैं और ऐसे ही डिप्लोमा कोर्स से संबंधित आपके मन में सवाल आ रहे हैं। तो आप एकदम सही जगह का आए हैं। 

आज हम आपको बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स कैसे करें– BA Ke Baad Diploma Course Kaise Kare, डिप्लोमा कोर्स करने के फायदे, बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स करने की टॉप कॉलेजेस, बीए करने के बाद डिप्लोमा कोर्स के लिए भारत में टॉप कॉलेजेस साथ ही बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स में करियर इत्यादि के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देने वाले हैं।

बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स | BA Ke Baad Diploma Course List
बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स | BA Ke Baad Diploma Course List

Diploma Course Criteria In Hindi

यह कोर्स उन विद्यार्थी के लिए बहुत ही फायदेमंद सिद्ध होंगे। जो विद्यार्थी स्नातक के बाद एक शॉर्ट समय वाले कोर्स करना चाहते हैं या कम समय खर्च करना चाहते हैं। 

स्नातक की डिग्री करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन शॉर्ट टाइम कोर्स होता है जोकि 6 महीने,1 साल या 2 साल समय तक के होते हैं। स्नातक कि डिग्री पूरा करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन कम समय में कंप्लीट कराकर विद्यार्थियों के लिए उज्जवल भविष्य प्रदान करता है।

 साथ ही काफी सारे रोजगार जैसे इंटीरियर, फैशन डिजाइनिंग, आईटी, फाइन आर्ट्स, बिजनेस मैनेजमेंट, डिजाइनिंग, फोटोग्राफी  इत्यादि के अवसर प्रदान करते हैं।

Table of Contents

बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स कैसे करें (BA Ke Baad Diploma Course Kaise Kare)

बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स करने के लिए काफी सारी प्रक्रिया है जो कि इस प्रकार से:–

  • डिप्लोमा कोर्स करने के लिए 12वीं कक्षा में किसी भी स्ट्रीम को लेकर के मान्यता प्राप्त करना होता है। 
  • किसी भी कॉलेज या संस्था से स्नातक की डिग्री में कम से कम 50% अंक से मान्यता प्राप्त करना होता है।
  • भारत में डिप्लोमा कोर्स के लिए CAT और MAT जैसे प्रवेश परीक्षा को स्वीकृति दिया गया है। जिन्हें पास करना होता है। वहीं विदेश में डिप्लोमा कोर्स में दाखिला के लिए GMAT जैसे प्रवेश परीक्षा पास करना होता है।
  • विदेशी कॉलेजों में अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी के लिए PTE,TOEFLया IELTS इत्यादि जैसे एग्जाम देना होता है।

MUST READ:–

डिप्लोमा कोर्स कितने प्रकार के होते हैं?

डिप्लोमा कोर्स एक हाई लेवल का कोर्स होता हैं जोकी काफी सारे विषयों के बारे में गहराई से जानकारी प्रदान करता है। जिनहे बेचलर ऑफ आर्ट्स के बाद किया जाता है। डिप्लोमा कोर्स के प्रकार के होते हैं जिनमे से कुछ इस प्रकार है:–

  • PGDID
  • PGDSW
  • PGDHM
  • PGDEM
  • PGDPR
  • PGDGC
  • PGDM (Post Graduate Diploma in Management)
  • PGDHRM
  • Etc……

PPGDID कोर्स क्या होता है?

PGDID का फुलफॉर्म Post Graduate Diploma in Computer Application होता है। यह कोर्स 2 साल का होता है। जो विद्यार्थियों के ज्ञान और सिस्टम का जानकारी प्रदान करने में मदद करता है।

यह एक उच्च डिग्री धारक कोर्स होता है जिसमें उच्च तकनीकी ग्राफिक्स, डिजाइनिंग,व्यवसाय इत्यादि के अंतरिक लक्ष्य को पूर्ण करने में उपयोग किया जाता है।

योग्यता:–

किसी भी कॉलेज जैसे सरकारी कॉलेज, प्राइवेट कॉलेज या कोई संस्था से कोई भी स्ट्रिम से स्नातक की डिग्री 55% अंक से मान्यता प्राप्त होनी चाहिए। जबकी दाखिला अंक अलग-अलग कॉलेजों में अलग-अलग होता है। 

जॉब्स ऐरिया:–

  • योजना बनाने वाला
  • ग्राफिक डिजाइनर
  • डिज़ाइन इंजीनियर
  • सहायक प्रशिक्षु
  • टेक्सटाइल डिजाइनर
  • इत्यादि……..

PGDSW कोर्स क्या होता है?

इस कोर्स का फुल फॉर्म होता है यह कोर्स 1 साल का होता है। जिसका फुल फॉर्म पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा इन सोशल वर्क (Postgraduate Diploma In Social Work) होता है।

इस कोर्स के उम्मीदवार गरीबों के सहायक के प्रतिरूप कार्य करते हैं साथ ही समाज के लोगों की मानसिकता में बदलाव के लिए जागरूक करने में योगदान देते हैं। 

इस कोर्स के उम्मीदवारों का मुख्य उद्देश्य होता है कि गरीबों का मदद करना।

योग्यता:–

स्नातक की डिग्री में कोई भी कॉलेज (सारकारी कॉलेज या प्राइवेट कॉलेज) से किसी भी स्ट्रिम में कम से कम 50% अंक होना अनिवार्य होता है। 

जॉब्स ऐरिया:–

  • मानवीय सलाहकार
  • मानव संसाधन प्रबंधक
  • परियोजना समन्वयक
  • सहायक निदेशक
  • कल्याण अधिकारी
  • विशेषज्ञ सामाजिक कार्य

निर्धारित वेतन:–

पि.जी.डी.एस.डब्ल्यू डिग्री धारक उम्मीदवार का वेतन उसके निर्धारित क्षेत्र के आधार पर लगभग 2 लाख से लेकर के लगभग 8 लाख प्रतिवर्ष तक का हो सकता है।

PGDHM कोर्स क्या होता है?

पीजीडीऐचऐम कोर्स एक 2 साल की अवधि वाला कोर्स होता है। जिसका फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट (Post Graduate Diploma In Management) होता है।

इस कोर्स के उम्मीदवारों को मेनेजमेंट से संबंधित सभी विषयों का प्रेक्टिकल जानकारी दिया जाता है।

योग्यता:–

किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में स्नातक डिग्री से 50% अंक से मान्यता प्राप्त करना होता है जबकी किसी इंस्टिट्यूट में दाखिला होने के लिए 60% अंक लाना अनिवार्य होता है।

जाॅब ऐरिया:–

  • अकाउंट मैनेजर
  • सप्लाई चैन मैनेजर 
  • सेल्स मैनेजर 
  • मार्केटिंग मैनेजर 
  • ऐडवरटिज मैनेजर 

निर्धारित सलेरी:–

जॉब्स सैलेरी 
अकाउंट मैनेजरलगभग 4 लाख प्रतिवर्ष 
सप्लाई चैन मैनेजरलगभग 9 लाख प्रतिवर्ष 
सेल्स मैनेजरलगभग 6 लाख प्रतिवर्ष 
मार्केटिंग मैनेजरलगभग 7 लाख प्रतिवर्ष 
ऐडवरटिज मैनेजरलगभग 5 लाख प्रतिवर्ष 

PGDEM कोर्स क्या होता है?

पीजीडीईऐम कोर्स 1 से 2 साल की होती है जिसका फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन इवेंट मैनेजमेंट (Post Graduate Diploma In Event Management) होता है। इस कोर्स के उम्मीदवारों को योजना बनाने तथा संगठन बनाने का ट्रेनिंग दिया जाता है।

 योग्यता:–

  • किसी भी कॉलेज से स्नातक की डिग्री में किसी भी स्ट्रिम से 50% अंक लाना अनिवार्य होता है।
  • आयोजित प्रवेश परीक्षा जैसे XAT,कैट,मैट मैं मान्यता प्राप्त होना होता है तभी जाकर के उम्मीदवार को इस कोर्स में दाखिला मिलती है।

जाॅब ऐरिया:–

  • उप. प्रबंधक
  • सेलिब्रिटी मैनेजर
  • कार्यक्रम प्रबंधक
  • शादी के योजनाकार
  • मार्केटिंग हेड
  • इमेज कंसल्टेंट

निर्धारित सलेरी:–

पीजीडीईऐम कोर्स में उम्मीदवारों की सैलरी लगभग 3 लाख से लेकर के लगभग 8 लाख तक की होती हैं। 

PGDPR कोर्स क्या होता है?

पीजीडीपीआर 1 साल का कोर्स होता है और इस का फुल फॉर्म जनसंपर्क में स्नातकोत्तर डिप्लोमा पाठ्यक्रम होता है।

विश्व का तीसरा सबसे बड़ा मीडिया और रचनात्मक यूएस न्यूज एंड वर्ल्ड रिपोर्ट के माध्यम से जनसंपर्क (पीआर) को माना जाता है।

योग्यता:–

किसी भी कॉलेज से किसी भी स्ट्रिम में स्नातक की डिग्री से न्यूनतम 50% अंकल आना होता है। 

जाॅब ऐरिया:–

  • बिक्री खाता कार्यकारी
  • विज्ञापन कॉपीराइटर
  • विज्ञापन खाता कार्यकारी
  • सार्वजनिक मामलों के सलाहकार
  • विपणन कार्यकारी

निर्धारित सलेरी:–

डिप्लोमा कोर्स के पश्चात उम्मीदवार कि सैलरी लगभग 2 लाख प्रतिवर्ष से लेकर के लगभग 10 लाख प्रतिवर्ष तक के हो सकते हैं। उम्मीदवार की सैलरी अलग-अलग क्षेत्र में अलग-अलग होते हैं।

PGDGC कोर्स क्या होता है?

पीजीडीजीसी 1-3 साल की एक डिप्लोमा कोर्स है इस कोर्स में विद्यार्थियों को मनोविज्ञान के बारे में विशेष रूप से पढ़ाए जाते हैं। इस कोर्स को पुरा करने के बाद विद्यार्थी एक शिक्षक के लिए भी आवेदन कर सकते हैं और वह अपनी मासिक वेतन में उच्च बढ़ोतरी कर सकते हैं। 

जाॅब ऐरिया:–

  • करियर गाइडेंस काउंसलर
  • मानसिक स्वास्थ्य परामर्शदाता
  • विद्यालय परामर्शदाता
  • पुनर्वास सलाहकार
  • देहाती परामर्शदाता

निर्धारित सलेरी:–

पीजीडीजीसी कोर्स डिग्री धारक उम्मीदवार गिलहरी लगभग 3 लाख प्रतिवर्ष से लेकर के लगभग 10 लाख प्रति वर्ष तक होता है जबकि अलग-अलग क्षेत्र में अलग-अलग होते हैं। यानी कि इनकी सैलरी क्षेत्र के आधार पर निर्भर होता है।

PGDM क्या होता है?

पीजीडीऐम 1 से 2 साल की एक डिप्लोमा कोर्स है जिसका फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट (Post Graduate Diploma In Management) होता है। और इस कोर्स में कारपोरेट और प्रबंधन के बारे में पढ़या जाता है।

योग्यता:–

  • इस कोर्स में दाखिला होने के लिए उम्मीदवारों को किसी भी कॉलेज से स्नातक की डिग्री में कम से कम 50% अंक लाना होता है।
  • प्रवेश परीक्षा (MAT,CAT Etc) में मान्यता प्राप्त करना होता है।

जाॅब ऐरिया:–

जॉब्स सैलरी 
इंटरनेशनल सैल्स मैनेजर10-11 लाख
सप्लाई चैन मैनेजर8-9 लाख
एडवर्टाइजिंग मैनेजर5-6 लाख
मार्केटिंग मैनेजर6-7 लाख
अकॉउंट मैनेजर3-4 लाख
सैल्स मैनेजर5-6 लाख

PGDHRM क्या होता है?

पीजीडीऐचआरऐम एक डिप्लोमा कोर्स है जो 1 साल का होता है जिसका फुल फॉर्म Post-Graduate Diploma in Human Resource Management होता है। इस कोर्स में मानव संसाधन का कुशल और प्रभावी उपयोग के बारे में पढ़ाया जाता है।

योग्यता:–

  • सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों के लिए कम से कम 50% अंक लाना होता है।
  • आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 45% अंक लाना होता है।

जाॅब ऐरिया:–

  • कर्मचारी संबंध प्रबंधक
  • ह्यूमन रिसोर्स जनरलिस्ट
  • विकास प्रबंधक
  • एचआर रिक्रूटर
  • इत्यादि……..

निर्धारित सलेरी:–

इस कोर्स के उम्मीदवारों की सैलरी सालाना लगभग 2 लाख प्रति वर्ष से लेकर के लगभग 15 लाख प्रति वर्ष तक के हो सकते हैं। 

भारत में बीए के टॉप कॉलेजों की सूची

भारतीय विद्यार्थियों के पास काफी सारे कॉलेजेस होते हैं बी ए कोर्स को पूरा करने के लिए जिनमें से पूछ इस प्रकार से हैं।

  • लेडी श्री राम कॉलेज फॉर विमेन
  • प्रेसीडेंसी विश्वविद्यालय
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज
  • उस्मानिया विश्वविद्यालय
  • लेडी ब्रेबोर्न कॉलेज
  • रामजस कॉलेज
  • इत्यादी……

डिप्लोमा कोर्स के टॉप कॉलेजों की सूची

विद्यार्थियों के पास विदेशों में डिप्लोमा कोर्स करने के लिए काफी सारे कॉलेजेस व यूनिवर्सिटी होते हैं जिनमें से नीचे कुछ इस प्रकार से हैं।

  • लंदन स्कूल ऑफ इकॉनॉमिक्स एंड पॉलिटिकल साइंस
  • ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी
  • कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  • ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  • प्रिंसटन विश्वविद्यालय 
  • हार्वर्ड यूनिवर्सिटी
  • इत्यादि…….
FAQ’S
Q:- बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स कैसे करें?

Ans– बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स करने के लिए 12वीं कक्षा किसी भी स्त्री हमसे किसी भी विश्वविद्यालय से 50% अंक से मान्यता प्राप्त करनी होगी।

Q:- डिप्लोमा कोर्स के बाद सैलरी कितनी होती है?

Ans– डिप्लोमा कोर्स की सैलरी उम्मीदवार के एक्सपीरियंस और उनके द्वारा चुने गए कोर्स के आधार पर निर्धारित होती है।

Q:- डिप्लोमा कोर्स के बाद कौन-कौन सी जॉब मिल सकती है?

Ans– डिप्लोमा कोर्स के बाद सेलिब्रिटी मैनेजर, विज्ञापन कॉपीराइटर, करियर गाइडेंस काउंसलर, कर्मचारी संबंध प्रबंधक आदि जैसे जॉब कर सकते हैं।

बीए के बाद डिप्लोमा कोर्स | BA Ke Baad Diploma Course List

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *