ग्रेजुएशन कितने साल का होता है | Graduation Kitne Saal Ka Hota Hai

ग्रेजुएशन कितने साल का होता है | Graduation Kitne Saal Ka Hota Hai:- नमस्कार दोस्तों आपका बहुत-बहुत स्वागत है हमारे Jabtak.in के वेबसाइट पर।

क्या साथियों आप भी ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहे हैं या ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर चुके हैं, और ग्रेजुएशन करने के बाद जॉब करके अपना केरियर बनाने का सोच रहे हैं। 

तो आप सही जगह से सही आर्टिकल को पढ़ रहे हैं। इस आर्टिकल से हम आपको जानकारी देने वाले हैं कि ग्रेजुएशन कितने साल का होता है– Graduation Kitne Saal Ka Hota Hai.

ग्रेजुएशन करने के फायदे साथ ही ग्रेजुएशन करने के टॉप यूनिवर्सिटी (Graduation Top Colleges in Hindi) इत्यादि के बारे में विस्तार पूर्वक से जानेंगे।

Graduation Information:- काफी सारे विद्यार्थी 12वीं पास करने के बाद एक अच्छे जॉब पाने के लिए स्नातक की डिग्री में दाखिला लेते हैं।

क्योंकि हम सब जानते हैं। कि किसी भी कहीं भी सरकारी या प्राइवेट जॉब पाने के लिए कम से कम स्नातक की डिग्री होना अति आवश्यक होता है।

तो ही आप अपने सरकारी व प्राइवेट क्षेत्र में एक अच्छी जॉब कर सकते हैं।

ग्रेजुएशन कितने साल का होता है (Graduation Kitne Saal Ka Hota Hai)

ग्रेजुएशन कोर्स सामान्यत: 3 साल की होती है, जबकि ग्रेजुएशन के कुछ कोर्स 4 या 5 साल के होते हैं, एंव अलग-अलग कोर्स के आधार पर अलग-अलग समय सीमा निर्धारित की गई है। 

ग्रेजुएशन के Year Limit UGC (Undergraduate Council) के माध्यम से तय किया गया है। 

ग्रेजुएशन के कोर्स में दाखिला लेने के लिए विधार्थी 12वीं कक्षा से अच्छे मान्यता प्राप्त करनी होती है। आज के समय में अगर देखा जाए तो हर एक विधार्थी अपनें भविष्य को बेहतर बनाने के लिए सरकारी या प्राइवेट जॉब करना चाहते हैं।

सरकारी और प्राइवेट जॉब के हरेक क्षेत्र में 95% ग्रेजुएट योग्यता वाले विद्यार्थियों को चुने जाते हैं।

ग्रेजुएशन दो प्रकार के होते हैं?

  1. जनरल ग्रेजुएशन कोर्स
  2. प्रोफेशनल ग्रेजुएशन कोर्स

जनरल ग्रेजुएशन कोर्स (General Graduation Course)

जनरल ग्रेजुएशन कोर्स 3 साल का होता है, जिसमें 6 सेमेस्टर का होता है। तथा प्रत्येक साल दो-दो सेमेस्टर का एग्जाम लिए जाते हैं। 

स्नातक की डिग्री किसी एक सब्जेक्ट से कि जाती है। जैसे कि 

  • Chemistry 
  • Physics 
  • Maths 
  • Biology 
  • English 
  • Hindi 
  • Geography 
  • Economics 
  • Etc……

इनमें से कोई एक विषय मैन होता है और बाकी सब्जेक्ट ऑप्शनल होते हैं। स्नातक की डिग्री में प्रथम और दिव्तीय वर्ष स्नातक कोर्स के से संबंधित जितने भी ऑप्शनल सब्जेक्ट होते हैं, उन सारे सब्जेक्ट को पढ़ना आता है।

 जबकि अंतिम वर्ष मैं केवल स्नातक डिग्री के मैन सब्जेक्ट को पढ़ना होता है। तथा इनके अलग-अलग चैप्टर को पढ़ना होता है।

प्रोफेशनल ग्रेजुएशन कोर्स (Professional Graduation Course)

प्रोफेशनल ग्रेजुएशन कोर्स (Professional Graduation Course) 4 से 6 साल के समय के होते हैं। जिसमें 8 सेमेस्टर होते हैं। और प्रत्येक वर्ष 2-2 सेमेस्टर के एग्जाम लिए जाते हैं।

प्रोफेशनल ग्रेजुएशन कोर्स किसी एंडस्ट्रीज या किसी कंपनी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। प्रोफेशनल ग्रेजुएशन कोर्स के लिए काफी सारे प्रोफेशनल कोर्स होते हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार से हैं।

  • एमबीबीएस 
  • डिजाइनर 
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर साइंस
  • सिविल इंजीनियरिंग

ग्रेजुएशन कोर्स क्या होता है?

ग्रेजुएशन कोर्स 4 या 5 साल के एक बैचलर डिग्री कोर्स होता है जोकि 12वीं कक्षा के बाद किया जाता है। इस कोर्स को करने के बाद विधार्थी के पास काफी सारे रोजगार के ऑप्शन खुल जाते हैं। 

यह कोर्स 12वीं कक्षा के बाद होने वाला सबसे लोकप्रिय कोर्स में से एक है। ग्रेजुएशन कोर्स तीन स्ट्रीम के होते हैं। जो कि नीचे इस प्रकार से हैं।

ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स के अंडर में निम्नलिखित कोर्स होते हैं।

CourseFull Form 
B.A.Bachelor of Arts
B.SCBachelor of Science
B.COMBachelor of Commerce
BCABachelor of Computer Applications
B.A LLBBA with Bachelor of Law
B.DesBachelor of Design
B.ArchBachelor of Architecture
B.TechBachelor of Technology
BCSBachelor of Computer Science
BFABachelor of Fine Arts
B.E.Bachelor of Engineering
B.F.MBachelor of Hotel Management
B.D.SBachelor of Dental Surgery

ALSO READS:–

ग्रेजुएशन में बीए कोर्स (BA in Graduate)

बीए ग्रेजुएट का फुल फॉर्म बेचलर ऑफ आर्ट्स (Bachelor Of Arts) होता है। जबकि यह कोर्स 3 साल की होती हैं। इस कोर्स में 5 सब्जेक्ट होते हैं। और बीए के प्रथम वर्ष में 8 सेमेस्टर होते हैं। 

बीए ग्रैजुएट करने के बाद विद्यार्थियों के पास काफी सारे जॉब ऑप्शन खुल जाते हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार से हैं:–

  • Banking
  • Professor
  • Police Constable
  • Computer Operator
  • Lawyer
  • Etc…..

बिए कोर्स में मुख्यतः 3 सब्जेक्ट होते हैं और 2 सब्जेक्ट कंपलसरी होता है जो कि किसी एक साल में कंपलसरी सब्जेक्ट का एग्जाम होता है।

ग्रेजुएशन में बीएससी कोर्स (B.SC in Graduate)

बीएससी ग्रेजुएशन कोर्स 3 साल का कोर्स होता है जिसका फुल फॉर्म Bachelor of Science जिसे हिंदी में विज्ञान स्नातक भी कहते हैं। बीएससी में कुल 6 सेमेस्टर होते हैं, जिन्हें प्रत्येक साल दो-दो सेमेस्टर का एग्जाम होता है।

ग्रेजुएशन अंडर बीएससी करने के बाद विद्यार्थी काफी सारे जॉब कर सकते हैं, जिनमें से कुछ जॉब्स इस प्रकार से हैं–

  • बीएनवाईएस-नेचुरोपैथी
  • बीडीएस-दंत चिकित्सा
  • बीएएमएस-आयुर्वेद
  • इत्यादि…..

Note:- 12वीं कक्षा में I.SC में मान्यता प्राप्त करने वाले विद्यार्थी ही बीएससी में दाखिला ले सकते हैं। 

बीएससी में विधार्थी ऑनर्स कर सकते हैं, यानी कि किसी एक विषय पर गहरी जनकारी कर सकते हैं।

ग्रेजुएशन में बीकॉम कोर्स (B.Com in Graduate)

बीकॉम का फुल फॉर्म Bachelor of Commerce होता है, जबकि यह कोर्स 3 साल का होता है और इसमें 6 सेमेस्टर होते हैं। 

बीकॉम अंडर ग्रैजुएट कोर्स करने वाले विद्यार्थी के पास काफी सारे रोजगार के क्षेत्र खुल जाते हैं, जबकि उनमें से कुछ निम्न प्रकार से हैं।

  • Business
  • Advisers
  • Accountant
  • Auditor
  • Etc…….

B.COM अन्य कोर्स की तरह इसमें भी विद्यार्थी ऑनर्स कर सकते हैं, जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा से साइंस स्ट्रीम या कॉमर्स स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त किए हैं। वही आगे जाकर के बीकॉम की कोर्स भी कर सकते हैं।

ग्रेजुएशन के लिए योग्यता कितनी होनी चाहिए?

ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स करने वाले विद्यार्थी का योग्यता निम्नलिखित होता है।

  • 12वीं कक्षा से मान्यता प्राप्त होने चाहिए।
  • ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स के लिए विद्यार्थियों को एंट्रेंस एग्जाम से मान्यता प्राप्त करना होता है।
  • 12वीं कक्षा में प्राप्तांक के अनुसार विद्यार्थी टॉप Universities या टॉप colleges में दाखिला होते हैं। 

ग्रेजुएशन करने के फायदें 

  • ग्रेजुएट विद्यार्थियों के पास काफी सारे सरकारी या प्राइवेट क्षेत्र के लिए जॉब ऑप्शन होते हैं। 
  • किसी ग्रामीण या सहरी क्षेत्र में भी जॉब कर सकते हैं। 
  • ग्रेजुएशन कोर्स करने पर विद्यार्थियों के पास काफी सारी जानकारी तथा उनकी ज्ञान की वृद्धि होती है।
  • स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद विधार्थी अपने आगे की पढ़ाई BA, MA जैसे कोर्स को कर सकते हैं। 

ग्रेजुएशन करने का प्रक्रिया क्या है?

जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा में मान्यता प्राप्त कर चुके हैं,और वह आगे जाकर के ग्रेजुएशन की पढ़ाई करना चाहते हैं, तो उनके पास ग्रेजुएशन के लिए काफी सारे ऑप्शन होते है। जैसे कि 

  • विधार्थी ग्रेजुएशन की पढ़ाई किसी प्राइवेट कॉलेज युनिवर्सिटी या किसी संस्था से कर सकते हैं। 
  • ग्रेजुएशन की पढ़ाई विद्यार्थी किसी सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं।
  • किसी टॉप प्राइवेट कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर सकते हैं।

प्राइवेट कॉलेज से ग्रेजुएशन

किसी सामान्य प्राइवेट कॉलेज से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने के लिए विद्यार्थियों को कम से कम 50% अंक लाना अनिवार्य होता है।

ग्रेजुएशन कोर्स में दाखिला अंक अलग-अलग प्राइवेट कॉलेज या यूनिवर्सिटी में अलग-अलग होते हैं।

सरकारी कॉलेज से ग्रेजुएशन

सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री करने के लिए विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा में 70% अंक लाना अनिवार्य होता है तथा अलग-अलग सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में क्षेत्र के आधार पर दाखिला अंक अलग अलग निर्धारित होता है। 

टॉप कॉलेज से ग्रेजुएशन

टॉप कॉलेज जाएं यूनिवर्सिटी में दाखिला होने के लिए विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा में कम से कम 75% अंक लाना जरूरी होता है। 

अलग-अलग टॉप यूनिवर्सिटी या कॉलेज में अलग अलग होता है। किसी टॉप कॉलेज या यूनिवर्सिटी में दाखिला मेरिट लिस्ट आधार पर होता है।

FAQ 
Q➢ ग्रेजुएशन कितने साल का होता है?

Ans:- ग्रेजुएशन कोर्स सामान्यतः 3 साल की होती है, तथा ग्रेजुएशन के समय सीमा कोर्स के ऊपर आधारित होती है।

Q➢ प्राइवेट कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के लिए कितना नंबर चाहिए?

Ans:- किसी सामान्य प्राइवेट कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के लिए विद्यार्थियों को कम से कम 50% अंक लाना अनिवार्य होता है।

Q➢ टॉप कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के लिए कितना नंबर चाहिए?

Ans:- किसी टॉप कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन करने के लिए विद्यार्थियों को कम से कम 75% अंक लाना अनिवार्य होता है, तथा अलग-अलग यूनिवर्सिटी या कॉलेज में अलग-अलग अंक निर्धारित होती है।

ग्रेजुएशन कितने साल का होता है | Graduation Kitne Saal Ka Hota Hai

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *