एमए में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए | MA Me Pass Hone Ke Liye Kitne Number Chahiye

एमए में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए (MA Me Pass Hone Ke Liye Kitne Number Chahiye), ma passing marks, एम ए में पास होने के लिए पर्सेंट चाहिए?

B.a. की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थी जब अपनी पढ़ाई को पूरा कर लेता है। तो पूरा करने के बाद ऐमे की पढ़ाई करने का सोचते हैं।

 तो ऐसे में ऐमे की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों के मन में अक्सर ऐसा सवाल आते रहता है। की M.A. में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए? M A Pass Hone Ke Liye Kitne Number Chahiye.

M.A. पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए– M A Pass Hone Ke Liye Kitne Number Chahiye
एमए में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए (MA Me Pass Hone Ke Liye Kitne Number Chahiye)

काफी सारे ऐसे व्यक्ति होते हैं। जो कि अपने ऐमे की पढ़ाई करने के साथ साथ अन्य किसी क्षेत्र में भी जॉब करना पसंद करते हैं।

 और वह अपने कॉम्पिटिशन एग्जाम कि तैयारी भी करते हैं। लेकिन उनके सामने एक दुविधा खड़ी हो जाती है। कि वह ऐमे एग्जाम की तैयारी करें या कंपटीशन एग्जाम की तैयारी करें।

ऐसे में एम ए की परीक्षा में पास होना थोड़ा कठिन सा महसूस होता है। तो क्या आपको जानकारी है। कि ऐमे मे पास होने के लिए कितने नंबर की जरूरत होती है?

 अगर नहीं तो मैं आपको आज इस आर्टिकल बताने वाला हूं। की एम ए में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए? इस आर्टिकल मे अंत तक बने रहिए। ताकि आपके मन में जो तरह-तरह के सवाल आते हैं।

वह खत्म हो जाएगा। और आप आसानी से एग्जाम कि तैयारी कर सकते हैं। तो चलिए आज हम जानने वाले हैं। कि MA में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

एमए में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए (MA Me Pass Hone Ke Liye Kitne Number Chahiye)

M.a. में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए एम ए दो वर्ष का कोर्स होता है। जिसमें चारपाई पर होते हैं। एम ए में  4 पेपर होते है। और चारों पेपर में 100 – 100 के नंबर होते हैं। 

ऐसे में एम ए में पास होने के लिए प्रत्येक पेपर से 36% चाहिए। यानी कि एम ए पास होने के लिए प्रत्येक पेपर से 36 नंबर लाना होता है।

ऐसे में एम ए पास होने के लिए 400 का 36% अंक लाना होता है। जबकि 400 का 36% 144 अंक होता है। एम ए पास होने के लिए अलग-अलग कॉलेज या यूनिवर्सिटी में अलग-अलग अंक निर्धारित होते हैं।

 एम ए मे चार सेमेस्टर होते हैं। ऐसे में कई कॉलेज या यूनिवर्सिटी में एम ए कि परीक्षा वार्षिक ली जाती है। 

M.A Scheduled 

DegreePost Graduate 
Durations 2 Year’s 
Full Form Master Of Arts 
Passing Percentage 36% Each Subjects 
Average Fees 15,000 to 50,000
Jobs After M.A.Social Worker,Professor,Teacher etc

ALSO READS:–

एमए की फीस कितनी होती है– MA Ki Fees Kitni Hoti Hai 

एमए की फीस कितनी होती है? जैसा कि हमने ऊपर बताया कि एम ए मे कुल 4 सेमेस्टर होते है।  ऐसे में अगर फीस की बात किया जाए। तो एम ए की फीस सरकारी कॉलेज में लगभग 10,000 से लेकर के लगभग 15000 तक की फीस लग सकती है।

 वहीं अगर प्राइवेट कॉलेज की बात किया जाए तो सरकारी कॉलेज की तुलना में प्राइवेट कॉलेज की फीस कुछ अधिक होता है। जैसे कि किसी बड़े प्राइवेट कॉलेज या प्राइवेट युनिवर्सिटी  में एम ए की फीस लगभग 15,000 से लेकर के 50,000 तक की हो सकती है।

डबल M.A. क्या होता है?

आर्ट्स मे किसी दो सब्जेक्ट को लेकर के पोस्ट ग्रेजुएट करना तथा किन्हीं दो अलग-अलग विषय को लेकर के एम ए की डिग्री को हासिल करना डबल M.A काहा जाता है।

एम ए में कुल कितने सब्जेक्ट होते है?

विद्यार्थियों के चुने गए बीए में सब्जेक्ट से ही एम ए कि कोर्स को करना होता है। और बाद में हुआ पीएचडी जैसे डिग्री मे भी दाखिला ले सकते हैं। अगर देखा जाए तो m.a. में ऑल सब्जेक्ट इस प्रकार से है

  • Political Science (राजनीति शास्त्र)
  • Psychology (मनोविज्ञान)
  • Literature ( साहित्य)
  • Anthropology (मानव शास्त्र)
  • Economics (अर्थशास्त्र)
  • Geography (भूगोल)
  • Archaeology (पुरातत्व शास्त्र)
  • Music (संगीत)
  • Sociology (समाजशास्त्र)
  • M.A in different language (अलग अलग भाषाएं)
  • Philosophy (दर्शन शास्त्र)
  • History (इतिहास)
  • Library and Information(पुस्तकालय और सूचना)
  • Public Administration (लोक प्रशासन)
  • Religious studies (धर्मशास्त्र)Rural studies

M.a. की डिग्री से विद्यार्थियों को निम्नलिखित जैसे

भूगोल, राजनीति सामाजिक, विज्ञान आदि जैसे विषयों से जानकारी दिया जाता है और यह सब के बारे में विद्यार्थियों को पढ़ाए जाते हैं। 

M.a. में मुख्य सब्जेक्ट कौन कौन से होते हैं?

अगर मुख्य सब्जेक्ट के बारे में बात किया जाए।  तो एम ए कोर्स में कुल 5 सब्जेक्ट होते हैं। और जैसे कि मैंने ऊपर बताया कि आपने जिस सब्जेक्ट को लेकर के बीए की पढ़ाई की है। उसी सब्जेक्ट से एम ए भी करना होता है। एम ए के मुख्य सब्जेक्ट 5 होते हैं। जो कि इस प्रकार से हैं:-

  • Psychology (मनोविज्ञान)
  • History (इतिहास)
  • Geography (भूगोल)
  • Economics (अर्थशास्त्र)
  • Anthropology (मानव शास्त्र)
  • Political Science (राजनीति शास्त्र ) आदि आते हैं। 

MA क्या है?

एम ए एक पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री कोर्स होता है। जिसका 2 साल का समय निर्धारित होता है। इस कोर्स को करने के बाद विद्यार्थियों के कैरियर के लिए काफी सारा जॉब ऑप्शन खुल जाता है।

 इसमे आर्ट्स से संबंधित सारे विषयों को पढ़ाए जाते हैं। जैसे समाजिक विज्ञान,संचार,भूगोल,भाषा विज्ञान और नृविज्ञान आदि। एम ए की परीक्षा प्रैक्टिकल और थ्योरी दोनों में लिए जाते हैं।

एम ए की पढ़ाई आप एक ही कॉलेज या यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं। जहां आप बीए की डिग्री हासिल करना चाहते हैं। वहीं से आप एम ए की डिग्री भी हासिल कर सकते हैं।

ग्रेजुएशन में विद्यार्थियों की प्राप्तांक के अनुसार हि कॉलेज या यूनिवर्सिटी में दाखिला होती है।  लेकिन कहीं बड़े यूनिवर्सिटी या कॉलेजों में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम लिए जाते है। एम ए के एडमिशन मेरिट बेसिक पर होती है।

साथियों बीए और एमए की पढ़ाई लगभग सारे कॉलेजों में एक ही यूनिवर्सिटी या कॉलेजों से कर सकते हैं। यानी कि आप जिस कॉलेज या यूनिवर्सिटी में बीए की डिग्री हासिल किया है। उसी कॉलेज से एम ए की डिग्री भी हासिल कर सकते हैं

M.a. का फुल फॉर्म क्या होता है?

M.a. का फुल फॉर्म Master of arts होता है। जिसे हिंदी में कला स्नातकोत्तर या कला परास्नातक कहते हैं।

एमए करने के फ़ायदें

M.a. करने के काफी सारे फायदे हैं। उनमें से आपको नीचे कुछ फायदे के बारे में बताया गया है। जो कि इस प्रकार से है। 

  • एम ए सब्जेक्ट मे एक्सपर्ट बन जाते हैं।
  • एम ए डिग्री धारकों का हर जगह सम्मान होता है। 
  • एमएस डिग्री धारक M.Phil या Ph.D के लिए योग्य होता है। 
  • एम ए विधार्थी को एक पोस्टग्रेजुएट विद्यार्थी भी कह सकते हैं।
  • M.a. की उम्मीदवारों को नौकरी के लिए प्राथमिकता दी जाती है।
  • UGC NET परीक्षा के लिए भी उम्मीदवार को एम ए की डिग्री हासिल करना होता है।

M.a. करने की प्रक्रिया (M A Admission Process)

जो विद्यार्थी स्नातक की डिग्री में मान्यता प्राप्त किये है। वही M.a. में दाखिला ले सकते हैं। चाहे वह कोई भी स्ट्रीम को लेकर के बैचलर कि डिग्री में मान्यता प्राप्त किये हों।

एम ए  में दाखिला एंट्रेंस एग्जाम(Entrance Exam) या मेरिट लिस्ट (Merit List) के अनुसार पर ही होता है। M.a. में दाखिला मेरिट लिस्ट या एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर होता है। अलग-अलग यूनिवर्सिटी और कॉलेज में अलग-अलग होता है।

जैसे कि कोई कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम के अनुसार से एम ए में दाखिला होता है। जबकि कई कॉलेज में मेरिट लिस्ट के आधार पर दाखिला होती है। मेरिट लिस्ट में स्नातक की डिग्री में प्राप्तांक के आधार पर दाखिला होता है। 

एम ए में दाखिला होने के लिए बैचलर कि डिग्री में कम से कम 50% अंक लाना अनिवार्य होता है। और यह अलग अलग यूनिवर्सिटी और कॉलेज में अलग-अलग होता है।

M.a Course in Private College 

प्राइवेट कॉलेज मे एम ए की कोर्स M.a Course in Private College आज के समय में अगर देखा जाए।

तो प्राइवेट कॉलेज से ही अधिकतर विद्यार्थी कोई भी स्ट्रीम को करना पसंद करते हैं। क्योंकि प्राइवेट कॉलेज में क्लास अटेंड नहीं करना होता है। 

इसलिए काफी सारे विद्यार्थी प्राइवेट कॉलेज या यूनिवर्सिटी में admission लेना पसंद करते हैं। क्योंकि उस वक्त उन्हें एग्जाम तैयारी करने में कोई दिक्कत नहीं होती है। और समय को बचाते हुए अपने एग्जाम की तैयारी अच्छी तरह से कर लेते हैं।

प्राइवेट कॉलेज में एम ए कोर्स की फीस लगभग 15,000 से लेकर के 50,000 तक होती है। प्राइवेट कॉलेज या यूनिवर्सिटी में विद्यार्थियों को महीना में एक बार या दो बार जाना होता है प्रेजेंटेशन देने के लिए।

M.a Course in government college 

सरकारी कॉलेज में एम ए की कोर्स M.a Course in government college सरकारी कॉलेज में विद्यार्थियों को रेगुलर अटेंडेंस देना होता है जबकि प्राइवेट कॉलेज जो यूनिवर्सिटी में ऐसा नहीं होता है।

सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में आपको नियमित रूप से क्लास करना होता है। और अटेंडेंस कम से कम 75% होना चाहिए।

FAQ’S:–

Q. M.a. में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

Ans:- M.a. में पास होने के लिए 100 में से 36 अंक लाना होता है।

Q. M.a. की परीक्षा में कितने पेपर होते हैं?

Ans:- M.a. की परीक्षा में 4 पेपर होते हैं। 

Q. M.a. फर्स्ट ईयर में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

Ans:- M.a. फर्स्ट ईयर में मुख्य 5 सब्जेक्ट होते हैं।

M.A. पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए– M A Pass Hone Ke Liye Kitne Number Chahiye

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *