एनडीए की सैलेरी कितनी होती है | NDA Ki Salary Kitni Hoti Hai

एनडीए की सैलेरी कितनी होती है। NDA Ki Salary Kitni Hoti Hai अगर आज के समय के बारे में बात किया जाए तो एनडीए यानी कि राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के बारे में काफी कम लोगों को ही पता होगा। 

भारतीय सेना तीन प्रकार की होती हैं जल सेना, थल सेना और वायुसेना तीनों सेना में भर्ती होने के लिए एनडीए (NDA) एक संयुक्त सेना अकादमी है।

NDA में दाखिल होने के लिए हर साल यूपीएससी (UPSC) के द्वारा साल में दो बार प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है जिसमें भाग लेकर के आप भारतीय सैनिक में शामिल होने का सपना देखते हैं।

एनडीए की सैलेरी कितनी होती है | NDA Ki Salary Kitni Hoti Hai

ऐसे में क्या आप जानते हैं कि एनडीए की सैलेरी कितनी होती है। NDA ki salary kitni hoti hai अगर नहीं तो आज मैं आपको इस आर्टिकल के माध्यम से इसके बारे में पूर्ण रूप से जानकारी देने वाले हैं पूर्ण रूप से जानकारी पाने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

Table of Contents

एनडीए की सैलेरी कितनी होती है (NDA Ki Salary Kitni Hoti Hai)

एनडीए में चयनित पुरुष कैंडिडेट/ महिला कैंडिडेट ट्रेनिंग के पश्चात सातवें वेतन आयोग के अनुसार शुरुआती कि सैलेरी लगभग 56,100 से लेकर के लगभग 1,77,500 तक की हो सकती है तथा जैसे-जैसे कैंडिडेट की एक्सपीरियंस तथा पोस्टिंग बढ़ती है ठीक उसी प्रकार से कैंडिडेट की सैलरी में भी वृद्धि होती है। 

यूपीएससी एनडीए तथा भत्ते यूपीएससी की खुद की वेबसाइट पर जारी किए गए हैं ताकि एनडीए में नियुक्त होने के बाद कैंडिडेट को किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो।

उम्मीदवार आगे जाकर के एक अच्छे वेतन हासिल करने का मौका तथा पदोन्नति कभी मौका हासिल कर सकता है उम्मीदवार को अच्छे वेतन हासिल करने के लिए नीचे निम्नलिखित पोस्ट है जो कि इस प्रकार है:-

NDA में कौन कौन से पोस्ट होते हैं (NDA Post List In Hindi)

एनडीए में काफी सारे पोस्ट होते हैं जिनमें से कुछ पोस्ट इस प्रकार से हैं:–

  • कप्तान
  • प्रमुख
  • कर्नल
  • ब्रिगेडियर
  • सेना कमांडर
  • थलसेनाध्यक्ष
  • महा सेनापति
  • लेफ्टेनंट कर्नल
  • लेफ्टिनेंट
  • लेफ्टिनेंट जनरल (एचएजी+स्केल)
  • भिसिओऐएस (VCOAS)
  • वजीफा प्रशिक्षण
  • लेफ्टिनेंट जनरल (NESG)
  • लेफ्टिनेंट जनरल (एचएजी स्केल)
  • आदि……..

लेफ्टिनेंट जनरल (एचएजी+स्केल) कि सैलेरी 

लेफ्टिनेंट जनरल (एचएजी+स्केल) की सैलरी लगभग 2,05,400 रुपये से लेकर के लगभग 2,24,400 रुपये

तक की हो सकती है तथा यह कोर्स 16वां स्तर में आता है।

भिसिओऐएस (VCOAS) अधिकारी की सैलरी

भिसिओऐएस (VCOAS) अधिकारी की सैलरी सालाना लगभग 2,25,000 पक्की हो सकती है जबकि जाकर 17वां स्तर में आता है।

वजीफा प्रशिक्षण अधिकारी की सैलरी कितनी होती है 

भारतीय वजीफा प्रशिक्षण अधिकारी की वेतन महीने की लगभग 56,100 तक की होती है जबकि शुरुआती में महीने की वेतन लगभग 25,000 की हो सकती है तथा ट्रेनिंग के कोआर्डिनेटर के पद में चयनित अधिकारी की शुरुआती वेतन लगभग 30,000 तक कि हो सकती है वजीफा प्रशिक्षण अधिकारी के पद को भारत में 10वें स्तर पर रखा गया है।

एनडीए में भर्ती होने के लिए सारे चरण पूरा होने के पश्चात उम्मीदवार को भारतीय सेना जैसे वायु सेना, थल सेना और नौसेना जैसे विभाग में जॉब करने का अवसर मिल जाता है जिनमें से किसी एक विभाग को चुन करके उम्मीदवार को आगे बढ़ना होता है।

जैसे ही उम्मीदवार किसी एक विभाग के सारे चरण पूरे हो जाते हैं तो इसके पश्चात उम्मीदवार को ट्रेनिंग सेंटर भेज दिया जाता है जहां 3 साल की ट्रेनिंग के दौरान उन्हें भारतीय सैनिक में उत्तरदायित्व सौंपा जाता है।

लेफ्टिनेंट जनरल (NESG) अधिकारी की सैलरी

लेफ्टिनेंट जनरल (NESG) अधिकारी की वार्षिक सैलरी 

लगभग 2,25,000 तक कि हो सकती है तथा यह कोर्स 17 स्तर में आता है।

लेफ्टिनेंट जनरल (एचएजी स्केल) अधिकारी की सैलरी

लेफ्टिनेंट जनरल (एचएजी स्केल) अधिकारी की सैलरी

लगभग 1,82,200 रुपये से लेकर के लगभग 2,24,100 रुपये तक के हो सकती है तथा इस कोर्स को 15वां स्तर में रखा गया है।

सेना कमांडर अधिकारी की सैलरी

सेना कमांडर अधिकारी की सैलरी को 17वां स्तर में रखा गया है तथा इसकी सैलरी एक साल की लगभग 2,25,000 हो सकती है।

थलसेनाध्यक्ष अधिकारी की सैलरी कितनी होती है

थलसेनाध्यक्ष अधिकारी की सैलरी एक साल की लगभग

2,50,000 तक कि हो सकती है तथा इस पद के अधिकारी को 18वें स्तर पर रखा गया है

महा सेनापति की सैलरी कितनी होती है

भारतीय महा सेनापति की वार्षिक सैलरी शुरुआती में लगभग 1,44,200 रुपये से लेकर के लगभग 2,18,200 रुपये तक की हो सकती है तथा भारतीय महा सेनापति अधिकारी को 14वें स्तर पर रखा गया है।

लेफ्टेनंट कर्नल अधिकारी की सैलरी कितनी होती है

लेफ्टेनंट कर्नल अधिकारी की वार्षिक सैलरी शुरुआती की लगभग 1,21,200 रुपये से लेकर के लगभग 2,12,400 रुपये तक की हो सकती है तथा लेफ्टेनंट कर्नल अधिकारी को भारत में 12A के स्तर में रखा गया है।

लेफ्टिनेंट अधिकारी की सैलरी

भारतीय लेफ्टिनेंट अधिकारी की सैलरी शुरुआती में लगभग 56,100 रुपये से लेकर के लगभग 1,77,500 रुपये तक कि हो सकती है तथा लेफ्टिनेंट अधिकारी अधिकारी की पोस्ट को 10वें में रखा गया है।

लेफ्टिनेंट अधिकारी के पोस्ट को भारतीय सेना में सबसे कम रैंक वाला पोस्ट होता है इस पोस्ट के अधिकारी को 40 – 60 सेनाओं का एक समूह को देखभाल या लीड करना होता है इस समूह के कोई भी सैनिक किसी भी रिपोर्ट को डायरेक्ट लेफ्टिनेंट अधिकारी को ही रिपोर्ट करता है।

भारतीय लेफ्टिनेंट अधिकारी न्यूनतम 2 साल की जॉब करने के पश्चात अधिकारी का प्रमोशन  कैप्टन अधिकारी में हो जाता है तथा कैप्टन में प्रमोशन होने के बाद अधिकारी की सैलरी स्वस्थ, बीमा परिवहन की छूट, घर तथा बीएफ आदि की सुविधाएं भी दी जाती है

भारतीय कप्तान अधिकारी की सैलरी कितनी होती है

भारतीय कप्तान अधिकारी की सैलरी महीने के लगभग 61,300 रुपये से लेकर के लगभग 1,93,900 रुपये तक की हो सकती है तथा भारतीय कप्तान अधिकारी के पद को 10वीं स्तर में रखा गया है।

भारतीय प्रमुख अधिकारी की सैलरी 

भारतीय प्रमुख अधिकारी की सैलरी महीने की लगभग 69,400 रुपये से लेकर के लगभग 2,07,200 रुपये तक की हो सकती है और भारतीय प्रमुख अधिकारी के पद को 11वें स्तर में रखा गया है।

भारतीय कर्नल अधिकारी की सैलरी

भारतीय कर्नल अधिकारी की साल के शुरुआती वेतन लगभग 1,30,600 रुपये से लेकर के लगभग 2,15,900 रुपये तक की हो सकती है और कर्नल अधिकार के पद को भारत में 13वें स्तर पर रखा गया है।

भारतीय ब्रिगेडियर अधिकारी की सैलरी

भारतीय ब्रिगेडियर अधिकारी की सैलरी साल की लगभग 1,39,600 रुपये से लेकर के लगभग 2,17,600 रुपये  तक की हो सकती है, जबकी ब्रिगेडियर अधिकारी के पद को 13वें स्तर पर रखा गया है।

ALSO READS:–

NDA में ट्रैनिंग कितने साल की होती है।

एनडीए की ट्रेनिंग में चयनित कुल 3 प्रकार के सैनिक होते हैं जैसे वायु सेना, थल सेना, नौसेना जिसकी ट्रेनिंग में कैंडिडेट को शारीरिक प्रशिक्षण तथा अकादमिक प्रशिक्षण देना होता है जो कि 3 साल की होती है।

यह ट्रेनिंग सेनाओं के लिए अति आवश्यक होता है इस ट्रेनिंग के माध्यम से सैनिकों को मजबूत बनाया जाता है तथा काफी सारे नियम व कायदे को भी सिखाए जाते हैं जो कि युद्ध के स्थान में काफी फायदेमंद सिद्ध होता है।

FAQ’S: एनडीए की सैलेरी कितनी होती है | NDA Ki Salary Kitni Hoti Hai

प्रश्न:- एनडीए की सैलेरी कितनी होती है?

उत्तर:- भारतीय एनडीए अधिकारी की सैलरी सातवें वेतन आयोग के अनुसार शुरुआती की सैलरी लगभग 56,100 से लेकर के लगभग 1,77,500 तक की हो सकती है तथा अलग-अलग पोस्ट के अधिकारी की सैलरी अलग-अलग निर्धारित होती है।

प्रश्न:- एनडीए में कौन-कौन से पद होते हैं?

उत्तर:- एनडीए में कैंडिडेट वायु सेना, थल सेना और नौसेना के में से किसी एक विभाग में जॉब कर सकते हैं जिन्हें काफी सारे पोस्ट होते हैं जैसे कि सेना कमांडर, थलसेनाध्यक्ष, महा सेनापति, लेफ्टेनंट कर्नल, लेफ्टिनेंट, कप्तान आदि।

प्रश्न:- एनडीए में पर महीने की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर:- NDA में पर में शुरुआती पर माहिने की सैलरी लगभग 56,100 से हो सकते हैं और आगे अलग-अलग पोस्ट के अनुसार अलग-अलग मासिक वेतन निर्धारित की गई है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *