पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब | Polytechnic Ke Baad Government Job

पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब– Polytechnic Ke Baad Government Job हर साल लाखों करोड़ों विद्यार्थी सरकारी टेक्निकल की क्षेत्र में कार्य करने कि चाहते हैं और सरकारी टेक्नीकल कोर्स करने के लिए दाखिला भी  ले लेते हैं। 

पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब | Polytechnic Ke Baad Government Job
पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब | Polytechnic Ke Baad Government Job

लेकिन शुरुआत में आपके पास पॉलिटेक्निक के लिए कुछ खास जानकारी नहीं होती है। तो ऐसे परिस्थितियों में आपके अंदर कहीं ना कहीं डर बैठा रहता है। तो डरने की कोई बात नहीं है।

आज की इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले हैं गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक करने के फायदे, गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक योग्ता कितनी होनी चाहिए इत्यादि। 

पॉलिटेक्निक Poly+Technic शब्द से मिलकर बना हुआ होता है अलग-अलग कालाऔं के अध्ययन करने के संस्थान को पॉलिटेक्निक कह सकते हैं। 

Table of Contents

पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब (Polytechnic Ke Baad Government Job)

पॉलिटेक्निक के बाद उम्मीदवार के पास काफी सारे जॉब ऑप्शन खुल जाते हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार से है:–

  • गेल- गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड
  • ओएनजीसी- तेल और प्राकृतिक गैस निगम
  • एनटीपीसी- नेशनल थर्मल पावर कॉर्पोरेशन
  • बीएसएनएल- भारत संचार निगम लिमिटेड
  • भेल- भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड
  • भारतीय सेना
  • रेलवे
  • इत्यादी……

पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब कैसे करें?

पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब पाने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया है:–

  • सर्वप्रथम 12वीं कक्षा में मान्यता प्राप्त करनी होगी।
  • पॉलिटेक्निक कोर्स में मान्यता प्राप्त होनी चाहिए।
  • गवर्नमेंट जॉब की वैकेंसी के लिए आवेदन करें।
  • 2-3 साल की तैयारी करनी होती है।
  • सर्वप्रथम कॉलेज या यूनिवर्सिटी में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से करवाना होता है।
  • ऑफलाइन या ऑनलाइन फार्म जामा करते समय आवेदन शुल्क भी जामा करना होता है।
  • पॉलिटेक्निक में दाखिला के लिए लाए गए प्रवेश परीक्षा के अंक के उपर निर्धारित होता है।

पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब करने के लिए उम्मीदवार को सर्वप्रथम 12वीं कक्षा पास करनी होगी उसके बाद पॉलिटेक्निक के लिए आवेदन करना होगा आवेदन करने के बाद 2-3 साल की तैयारी करनी होगी।

पॉलिटेक्निक में मान्यता प्राप्त करने बाद काफी सारे गवर्नमेंट जॉब ऑप्शन होते हैं जिनमें से किसी एक को चुन कर उम्मीदवार को मान्यता प्राप्त करनी होती है।

MUST READ:–

पॉलिटेक्निक कोर्स क्या होता है (Polytechnic Course Kya Hai)

पॉलिटेक्निक एक 3 साल की डिप्लोमा कोर्स है जो कि व्यावसायिक पाठ्यक्रम और संस्थान तकनीकी शिक्षा के ऊपर केंद्रित करता है। पॉलिटेक्निक कोर्स के 3 साल पूरा होने के बाद उम्मीदवार को पॉलिटेक्निक प्रमाणित सर्टिफिकेट दिया जाता है। 

जिसके माध्यम से उम्मीदवार किसी भी सरकारी या गैर सरकारी चित्र में जॉब कर सकते हैं। साथ ही पॉलिटेक्निक के माध्यम से इंजीनियरिंग कि कोर्स को करके उम्मीदवार विदेशों में भी नौकरी कर सकते है।

पॉलिटेक्निक कोर्स लिस्ट हिंदी में (Polytechnic Course List In Hindi)

पॉलिटेक्निक कोर्स हासिल करने के लिए उम्मीदवार के पास काफी सारे ऑप्शन होते हैं जिनमें से किसी एक को चुन करके पॉलिटेक्निक करना होता है। पॉलिटेक्निक करने के लिए निम्नलिखित कोर्स होते हैं। 

  • गारमेंट टेक्नोलॉजी
  • फैशन डिजाइनिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • आर्किटेक्चरल असिस्टेंटशिप
  • इंस्ट्रूमेंटेशन और नियंत्रण
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • आंतरिक सजावट और डिजाइन
  • सूचना प्रौद्योगिकी
  • कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग
  • कृषि अभियांत्रिकी

12वीं के बाद पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करें?

12वीं की कक्षा में पॉलिटेक्निक करने के लिए सर्वप्रथम उम्मीदवार को आयोजित प्री टेस्ट एग्जाम में मान्यता प्राप्त करना होता है। प्री टेस्ट में मान्यता प्राप्त करने के बाद आप पॉलिटेक्निक कॉलेज में दाखिला के लिए पात्र होंगें। जैसे कि ऊपर हमने बताया कि पॉलिटेक्निक 3 साल की कोर्स होता है इसी प्रकार पॉलिटेक्निक में दाखिला होने के बाद 3 साल की तैयारी करनी होती है।

पॉलिटेक्निक के बाद रेलवे में जॉब कैसे करें?

पॉलिटेक्निक डिग्री धारक उम्मीदवार के पास रेलवे में दाखिला के लिए काफी सारे पोस्ट के विकल्प होते हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार है:–

  • Diploma Engineer
  • Junior Engineer
  • Mechanical Engineer
  • Technical Engineer
  • Etc…..

दिए गए विकल्पों में से रेलवे के द्वारा आयोजित वैकेंसी में किसी एक वैकेंसी पर आवेदन करना होता है आवेदन करने के बाद आपको रेलवे के द्वारा आयोजित एक एग्जाम में मान्यता प्राप्त करना होता है। 

मान्यता प्राप्त करने के पश्चात आपका साक्षात्कार लिया जाता है साक्षात्कार में मान्यता प्राप्त करने के बाद आपकी कलेक्शन होती है। 

पॉलिटेक्निक के बाद जॉब सैलरी कितनी होती है?

भारतीय पॉलिटेक्निक इंजीनियर भारतीय डिप्लोमा इंजीनियर का शुरुआती वेतन लगभग ₹1.1 लाख प्रतिवर्ष जबकि भारतीय डिप्लोमा इंजीनियर के उच्चतम वेतन लगभग ₹4.0 लाख तक की होती है। डिप्लोमा के लिए साल की अनुभवा अतिआवश्यक होता है

पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस कितनी होती है (Polytechnic Course Ki Fees Kitni Hoti Hai)

पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस की बात किया जाए तो भारतीय पॉलिटेक्निक कॉलेज कि फीस (Polytechnic Course Fees) लगभग 10,000 से लेकर के लगभग 5 लाख रुपए तक हो सकती है। 

सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज की फीस (Government polytechnic ki fees)

पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज डिप्लोमा डिग्री फीस लगभग 8,000 से लेकर के लगभग 10,000 तक की फीस हो सकती है साथ ही इस स्कॉलरशिप रखने पर फीस रिफंडेबल भी हो सकती है कॉलेज फीस के अलावा अगर देखा जाए तो

  1. ट्यूशन फीस 
  2. सिक्योरिटी फीस 
  3. हॉस्टल फीस 
  4. सेमेस्टर फीस 
  5. इत्यादि ……

1. ट्यूशन फीस (Tuition fees)

पॉलिटेक्निक के लिए ट्यूशन की फीस लगभग 2,000 से लेकर के 5,000 प्रतिवर्ष तक की हो सकते हैं जबकि यह फीस अलग अलग ट्यूशन क्षेत्र में अलग-अलग होते हैं।  

2. सिक्योरिटी फीस (Security fees)

सिक्योरिटी फीस अगर बात किया जाए तो यह अलग-अलग क्षेत्र के आधार पर निर्धारित होता है किसी क्षेत्र में कम तो किसी क्षेत्र में ज्यादा फीस होती है। 

3. हॉस्टल फीस (Hostel fees)

पॉलिटेक्निक विद्यार्थियों के लिए हॉस्टल फीस लगभग महीने की 12 से 15 सौ रुपये तक की हो सकती है। जबकि साल की लगभग 14,400 से 18,000 होती है। 

4. सेमेस्टर फीस (Semester fees)

पॉलिटेक्निक कोर्स सेमेस्टर की फीस सालाना लगभग 8 से 9 हजार तक की हो सकती है जबकि पॉलिटेक्निक कोर्स सेमेस्टर की फीस अलग-अलग सरकारी कॉलेज व यूनिवर्सिटी में अलग-अलग होता है कॉलेज या यूनिवर्सिटी की सट्टिक फीस कि जानकारी के लिए इसकी ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर के चेक करें।

5. निजी खर्च (Personal expenses)

नीति खर्च की अगर बात किया जाए तो निजी खर्च में विद्यार्थियों के हॉस्टल में खाने-पीने के खर्च में न्यूनतम 1500 सौ से 2000 प्रति महीने तक की हो सकती है।

इसी प्रकार अगर पॉलिटेक्निक कॉलेज की खर्च देखा जाए तो लगभग सालाना 50,000 तक कि हो सकती है।

पॉलिटेक्निक कोर्स करने के फायदे (Polytechnic Course Ke Fayde) 

पॉलिटेक्निक कोर्स करने से काफी सारे फायदे होते हैं जिनमें से कुछ फायदे इस प्रकार से है:–

  • पॉलिटेक्निक करने पर आप अपना ऑफिस खोल सकते है।
  • पॉलिटेक्निक कोर्स प्रमाणित टेक्नीकल सर्टिफिकेट हासिल कर सकते हैं।
  • पॉलिटेक्निक डिग्री से आपको तुरंत जॉब मिल जाती है। 
  • पॉलिटेक्निक कोर्स करने के बाद टेक्निकल असिस्टेंट,  लोको पायलट आदि सरकारी पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • जुनीयर इंजीनियर के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • डिप्लोमा कोर्स करने के बाद इंजीनियर की कोर्स करना आसान हो जाता है।
  • पॉलिटेक्निक कोर्स करने के बाद इंजीनियर कि सेकंड ईयर में दाखिला ले सकते हैं।

पॉलीटेक्निक के लिए योग्यता (Polytechnic Qualification)

भारतीय विद्यार्थियों के लिए पॉलिटेक्निक पात्रता साथ ही विदेशों में पॉलिटेक्निक करने के लिए पात्रता क्या होनी चाहिए यह निम्न प्रकार से है:–

  • 10वीं के बाद पॉलीटेक्निक कोर्स करने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं कक्षा से पास करनी होगी।
  • 12वीं के बाद पॉलीटेक्निक कोर्स करने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से PCM स्ट्रिम (फिजिक्स, केमिस्ट्री, गणित) से 12वीं कक्षा में पास करनी होगी।
  • किसी भी विदेश से पॉलिटेक्निक कोर्स करने के लिए उम्मीदवार को यूनिवर्सिटी बैचलर के लिए और मास्टर कॉलेज की डिग्री होना अति आवश्यक होता है।
  • विदेश यूनिवर्सिटी में पॉलिटेक्निक करने के लिए पोर्टफोलियो,सीवी/रिज्यूमे,SOP, LOR भी जामा करने की आवश्यकता होती है।
  • विदेशों में पॉलिटेक्निक के कोर्स में दाखिल होने के लिए IELTS या TOEFL जैसे टेस्ट एग्जाम में मान्यता प्राप्त करना होता है।

भारतीय पॉलिटेक्निक कॉलेज

भारतीय विद्यार्थियों के लिए टॉप यूनिवर्सिटी और कॉलेज साथ ही इस स्थित स्थान निम्नलिखित है –

टॉप कॉलेज स्थित स्थान 
एमईआई पॉलिटेक्निकबंगलुरु
अधिपरशक्ति पॉलिटेक्निक कॉलेजकांचीपुरम
विवेकानंद एजुकेशन सोसाइटी पॉलिटेक्निकमुंबई
एस एच जोंधले पॉलिटेक्निकठाणे
अंजुमन पॉलिटेक्निकनागपुर
छोटू राम पॉलिटेक्निकरोहतक
गवर्नमेंट पॉलिटेक्निकमुंबई
आदेश पॉलिटेक्निक कॉलेजमुक्तसर
वी.पी.एम. पॉलिटेक्निकठाणे
एग्नेल पॉलिटेक्निकनवी मुंबई

विदेश के लिए पॉलिटेक्निक टॉप कॉलेज

भारतीय विद्यार्थियों के लिए विदेशों में पॉलिटेक्निक कॉलेज व यूनिवर्सिटी निम्नलिखित प्रकार से है।

टॉप कॉलेजस्थित स्थान
नॉर्थईस्टर्न यूनिवर्सिटीबोस्टन, यूएसए
टीसाइड यूनिवर्सिटीमिडिल्सब्रा, यूके
मैकगिल विश्वविद्यालयमॉन्ट्रियल, कनाडा
मेलबर्न विश्वविद्यालयमेलबर्न, ऑस्ट्रेलिया
नैशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुरसिंगापुर
हंबर कॉलेजटोरंटो, कनाडा
कोनेस्टोगा कॉलेजकिचनर, कनाडा
जॉर्ज ब्राउन कॉलेजटोरंटो, कनाडा
एरिज़ोना स्टेट यूनिवर्सिटीटेम्पे, यूएसए
सेंटेनियल कॉलेजटोरंटो, कनाडा
मैकमास्टर विश्वविद्यालयहैमिल्टन, कनाडा

FAQ’S–

Qsn:- पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब कैसे करें?

Ans– 10वीं कक्षा में मान्यता प्राप्त करने के बाद पॉलिटेक्निक के लिए आवेदन कर के 3 साल की तैयारी के पश्चात गवर्नमेंट जॉब के लिए आवेदन करना होता है तभी जाकर कि आप गवर्नमेंट जॉब पा सकते हैं।

Qsn:- पॉलिटेक्निक करने के बाद कौन-कौन सी जॉब मिल सकती है?

Ans– ओएनजीसी,बीएसएनएल,भारतीय सेना,रेलवे,एनटीपीसी इत्यादि जॉब्स पॉलिटेक्निक करने के बाद आप कर सकते हैं।

Qsn:- पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज फीस कितनी होती है?

Ans– पॉलिटेक्निक गवर्नमेंट कॉलेज की फीस लगभग 10,000 से लेकर के 5 लाख तक की हो सकती है। 

पॉलिटेक्निक के बाद गवर्नमेंट जॉब | Polytechnic Ke Baad Government Job

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *